ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
योगी आदित्यनाथ ने आज बी0आर0डी0 मेडिकल काॅलेज में निर्माणाधीन 500 बेडेड सुपर स्पेशिलियटी बाल रोग चिकित्सा संस्थान का निरीक्षण किया
August 12, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेब वार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 12 अगस्त। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज बी0आर0डी0 मेडिकल काॅलेज, गोरखपुर में निर्माणाधीन 500 बेडेड सुपर स्पेशिलियटी बाल रोग चिकित्सा संस्थान का निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को 30 अगस्त, 2020 तक इस संस्थान का कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए बचाव एवं उपचार का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। इसके कारण स्थिति नियंत्रण में है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन में देश में कोविड-19 के नियंत्रण के लिए बनायी गयी कार्ययोजना का राज्य में अक्षरशः पालन किया जा रहा है। इससे देश की सबसे बड़ी आबादी का प्रदेश होने के बावजूद राज्य में काफी हद तक कोरोना संक्रमण के नियंत्रण में सफलता मिली है।
      मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 से बचाव के लिए सतर्कता अत्यन्त आवश्यक है। वर्तमान में अनलाॅक अवधि में टेªने संचालित की जा रही हंै। घरेलू उड़ाने भी प्रारम्भ हैं। इसके दृष्टिगत कोविड-19 से बचाव के लिए राज्य सरकार ने डोर-टू-डोर सर्वे एवं काॅन्टैक्ट टेªसिंग के लिए पूरे प्रदेश में 70 हजार से अधिक टीमें बनायी गयी हैं। प्रत्येक जनपद में इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेण्टर की स्थापना की गयी है। राज्य में प्रतिदिन कोविड-19 की एक लाख से अधिक जांच की जा रही हैं। प्रदेश में कोविड मरीजों के लिए 01 लाख 51 हजार से अधिक बेड उपलब्ध हैं।
      मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर में बी0आर0डी0 मेडिकल काॅलेज, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, नेपाल के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराता है। बी0आर0डी0 मेडिकल काॅलेज में 200 बेड का कोविड अस्पताल संचालित है। इसके अतिरिक्त बाल चिकित्सा संस्थान के भवन में भी 300 बेड का एक नया डेडिकेटेड कोविड अस्पताल बनाने के निर्देश दिये गये हैं। इसके लिए किसी भी संसाधन की कमी न होने दी जायेगी। इस अस्पताल के बन जाने से देवरिया, कुशीनगर, महराजगंज आदि जनपदों के निवासियों को भी और बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायी जा सकेगी।
      मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को निर्देशित किया कि 100 बेड टी0बी0 चिकित्सालय में भी 100 बेड का डेडिकेटेड कोविड अस्पताल बनाया जाय। इस अस्पताल में लेवल-2 एवं लेवल-3 की सुविधाएं प्रदान की जाएं। लेवल-2 एवं लेवल-3 के अस्पताल संचालन के लिए मैन पावर की टेªनिंग भी करायी जाये। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर जनपद में भी एल-2 एवं एल-3 के कोविड अस्पताल स्थापित कर उसमें वेन्टीलेटर सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये हैं। वर्तमान में प्रदेश में 500 से अधिक लेवल-1, 77 लेवल-2 एवं 26 लेवल-3 के कोविड अस्पताल संचालित हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के लिए प्रत्येक व्यक्ति का जीवन महत्वपूर्ण है। प्रदेशवासियों की जीवन रक्षा के लिए कहीं भी उपचार, दवा आदि आवश्यक संसाधनों की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी।
       इस अवसर पर जिला, पुलिस व मेडिकल काॅलेज प्रशासन तथा राजकीय निर्माण निगम के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।