ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
स्वयं को सामूहिक मेलमिलाप से पृथक रखें - ह्रदय नारायण दीक्षित
March 31, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 31 मार्च। कोरोना (कोविड-19) महामारी के संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रधानमंत्री के आदेश पर 14 अप्रैल तक की सम्पूर्ण लाॅकडाउन घोषणा जारी है। मुख्यमंत्री के दिशा-निर्देश पर तद्विषयक अनेक सुरक्षा उपायों पर अमल हो रहा है व आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति निर्बाध जारी है। उत्तर प्रदेश विधान सभा ने सामूहिक एकत्रीकरण को रोकने की दृष्टि से पहले 31 मार्च 2020 तक के लिए सचिवालय बंदी के निर्णय को अब 14 अप्रैल 2020 तक लागू किए जाने का निर्णय लिया है। इस दौरान विधान सभा का लेखा विभाग खुला रहेगा और जरूरी कार्यों का निस्पादन करेगा।
        विधान सभा अध्यक्ष हृदय नारायन दीक्षित ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि उत्तर प्रदेश विधान सभा सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों से यह अपेक्षा है कि वे भारत सरकार व राज्य सरकार द्वारा कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण की रोकथाम हेतु जो उपाय/निर्देश प्रसारित किये जा रहे है, उनको अपनायेंगे तथा कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करेंगे।
        श्री दीक्षित ने यह भी अपेक्षा की है कि विधान सभा के सभी कर्मिक विधान सभा के गरिमा के विरुद्ध कोई आयोजन, सामूहिक कार्य नहीं करेंगे। स्वयं को सामूहिक मेलमिलाप से पृथक रखेंगे एवं शासन द्वारा निर्गत किये गये निर्देशों के अनुपालन में पूर्ण सहयोग प्रदान करेंगे।