ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
स्वास्थ्य विभाग की उदासीनता से फल फूल रहे अवैध नर्सिंग होम
July 29, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

-पीपी किट का अता पता नही, होते है भर्ती मरीज, कोरोना वायरस खतरा बढ़ा

- जिले में एक्टिव केस हुए 207, कुल केस हुए ५१९

वेबवार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/एसके सोनी
रायबरेली 29 जुलाई। एक ओर जहां केन्द्र सरकार व राज्य सरकार (कोविड19) कोरोना जैसी वैश्विक महामारी को लेकर चिन्तित है वही स्वास्थ विभाग की उदासीनता के चलते शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रो तक कुकुरमुत्तों की तरह अनेकों अवैध नर्सिंग होम संचालित हो चुके है। इन नर्सिंग होमो मे मरीजो के आपरेशन भी होते है वही पीपी किट न होने के बाद भी मरीजो को भर्ती कर लिया जाता है। लाइसेन्स का पता नही, मानको की परवाह किये बगैर ऐसे नर्सिंग होमो का संचालित होना स्वास्थ विभाग की संलिप्तता बयां कर रहा है। योगी सरकार मे सख्ती के बाद भी आखिर इन नर्सिंग होमो को संचालित कराने का जिम्मेदार कौन हैं! जिले में कोरोना मरीजो की सँख्या बढ़ती ही जा रही है आज के बुलेटिन में 8 व 5 कुल 13 नए पॉजिटिव मरीजों में बढ़ोतरी हुई। अब जिले में एक्टिव के 207 पहुंच गये वही 298 केस रिकवर्ड के बाद कुल केस 519 हो चुके है।