ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
श्रमिकों को कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाने में कोताही न बरती जाय - सुनील भराला
August 13, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 13 अगस्त। उत्तर प्रदेश श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान परिषद के प्रगति कार्यों को लेकर बरेली व कानपुर मण्डल की समीक्षा इन्दिरा भवन स्थित कार्यालय से की। इस दौरान उन्होंने दोनो मण्डलों के उप श्रमायुक्त को निर्देशित किया कि श्रमिकों को कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाने में कोताही न बरती जाय। अधिकारियों की कार्यों के प्रति लापरवाही व शिथिलता किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी।
      श्री भराला ने श्रम कल्याण परिषद की प्रस्तावित तीन योजनाओं श्रीमती महादेवी वर्मा श्रमिक पुस्तक क्रय धन योजना, स्वामी विवेकानन्द धार्मिक एवं पर्यटन यात्रा योजना एवं मंगलाराय श्रमिक जिला, राज्य, राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय के खेलों में चयन होने पर आर्थिक सहायता वितरण योजना के संबंध में अधिकारियों से विचार-विमर्श किया। उन्होंने इन योजनाओं को धरातल पर लागू करने के संबंध में सुझाव देने के भी निर्देश दिए।
      उन्होंने बताया कि दुकानों, वाणिज्यिक अधिष्ठानों एवं कारखानों में कार्य करने वाले तथा 15000 रुपये तक मासिक मजदूरी पाने वाले श्रमिकों को इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए अपना आवेदन पत्र परिषद की वेबसाइट पर आॅनलाइन भेजना होगा। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को प्राथमिकता पर कार्य कर निर्धारित लक्ष्य को ससमय पूरा करने के लिए कमर कस लेना चाहिए। श्री भराला ने जिला तथा मण्डल स्तर पर आयोजित होने वाली उद्योग बन्धु, व्यापार बन्धु एवं श्रमिक आयोग की बैठकों में परिषद की योजनाओं का उल्लेख करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने यह भी कहा कि इन बैठकों में परिषद की योजनाओं पर विचार-विमर्श करने के लिए शासनादेश जारी करने हेतु प्रमुख सचिव श्रम को पत्र लिखा गया।
       उन्होंने प्रदेश के औद्योगिक अधिष्ठानों में बकाया पड़ी अनपेड मनी की माॅनीटरिंग करने एवं इसकी वसूली प्रक्रिया पर अधिकारियों से विचार-विमर्श किया। उन्होंने कहा कि इस अनपेड मनी को उद्योगों से प्राप्त कर श्रमिकों के लाभार्थ मुख्यालय को प्रेषित करना सुनिश्चित करेें। उन्होंने कहा कि परिषद के कोष में दान दिलाने के लिए कारखाना मालिकों को सीएसआर फण्ड से सहयोग प्रदान करने हेतु प्रोत्साहित करें, जिससे अधिक से अधिक श्रमिकों को लाभान्वित किया जा सके।
      परिषद की बैठक में सदस्यगण राधे कृष्ण त्रिपाठी, अजीत जैन, श्रमिक प्रतिनिधियों, सचिव श्रम कल्याण परिषद फैजल आफताब, उप श्रम कल्याण आयुक्त अमित मिश्रा, सहायक श्रमायुक्त रवि श्रीवास्तव, दोनों मण्डलों के उप श्रमायुक्त, सहायक श्रमायुक्त एवं श्रम प्रवर्तन अधिकारी उपस्थित थे। - सी0एल0 सिंह