ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
सदर विधायक द्वारा संरक्षित अपराधी पुलिस की पहुंच से दूर - सुरेंद्रनाथ त्रिवेदी
April 11, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ/संत कबीर नगर 11 अप्रैल। कहते हैं कि जिस देश का राजा ही अपराध में लिप्त हो तो वहां के मंत्री भी राजा के परम सहयोगी हो जाते हैं तो जनता कैसे सुखी रह सकती है बात हो रही है संत कबीर नगर के सदर विधायक जय चौबे की कभी यह जनाब मंत्री की बैठक में सांसद पर जूते मारते हैं कभी किसी पत्रकार को मार देते हैं जो भी उनके खिलाफ बोलता है उसके पीछे यह हाथ धो कर पड़ जाते हैं कभी इनके विद्यालय में बलवा हो जाता है वैसे ही इनके भाई भी हैं दोनों एक से बढ़कर एक, और इनके मामलों में वहां की कोतवाली का भी भरपूर सहयोग रहता है।
     संत कबीर नगर के पूर्व की घटनाओं से क्षुब्ध होकर राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश प्रवक्ता सुरेन्द्र नाथ त्रिवेदी ने कहा है कि जनपद संत कबीर नगर का पुलिस प्रशासन प्रदेश सरकार की जीरो टालरेंस नीति की धज्जियां उड़ा रहा है, और इस जनपद के सदर विधायक का पूर्ण संरक्षण जनपद की खलीलाबाद कोतवाली को प्राप्त है। इसी कारण दिनांक 3अप्रैल की दुस्साहसिक घटना की रिपोर्ट पाँच दिन बाद 8अप्रैल को अपराध सं० 0230 पर दर्ज हो सकी।
      श्री त्रिवेदी ने बताया कि राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय सचिव गंगा सिंह सैंथवार के प्रयास से रिपोर्ट तो दर्ज ह़ो गई परन्तु आज तक अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं की गई। क्योंकि अपराधियों को सदर विधायक का संरक्षण प्राप्त है। 
      ज्ञात हो कि श्रीमती सरोज मौर्या द्वारा दर्ज कराई रिपोर्ट में लगभग 15 लोगों पर अपहरण, मारपीट के साथ साथ जान माल की धमकी सहित मानहानि से सम्बन्धित गम्भीर धाराओं का समावेश है।
      रालोद प्रदेश प्रवक्ता ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से माँग करते हुए कहा है कि इस सन्दर्भ मे तत्काल संग्यान लेकर पुलिस अधीक्षक संत कबीर नगर को अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए निर्देशित किया जाय ताकि पीड़ित परिवार अपने को सुरक्षित महसूस कर सके।  उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा न होने की दशा में महामारी के कारण किए गए लाक डाउन के पश्चात राष्ट्रीय लोकदल प्रदेश स्तर पर आन्दोलन करने क़ो बाध्य होगा ।