ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
प्रतियोगी व प्रवेश परीक्षाओं में भीड़ एकत्र न होने दें - मुख्यमंत्री
August 16, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश
वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 16 अगस्त।  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने कहा कि प्रतियोगी व प्रवेश परीक्षाओं में यह सुनिश्चित हो कि कहीं भीड़ एकत्र न हो। इसके लिए आवश्यकतानुसार अधिक से अधिक जनपदों में परीक्षा केन्द्र स्थापित किए जाएं। इन केन्द्रों में स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकाॅल का पालन किया जाए। उन्होंने कोविड-19 के दृष्टिगत जनपद लखनऊ व कानपुर नगर में अतिरिक्त सतर्कता बरतने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि कोविड के ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाएं। होम आइसोलेशन के मरीजों से सी0एम0 हेल्प लाइन लगातार संवाद बनाए रखे, ताकि उनकी प्रभावी माॅनिटरिंग की जा सके।
मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ई-संजीवनी सेवा का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए, जिससे ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद मरीज घर पर रहकर डाॅक्टरी परामर्श प्राप्त कर सकंे। कोविड-19 के दृष्टिगत लगातार जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएं, क्योंकि जब तक कोई वैक्सीन नहीं बनता है, तब तक सावधानी बरतकर ही इसके प्रसार को रोक सकते हैं।
     मुख्यममंत्री ने कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत बेड्स की संख्या बढ़ाने के लिए प्रभावी कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि एल-2, एल-3 अस्पतालों में आॅक्सीजन की उपलब्धता पर्याप्त मात्रा में सुनिश्चित की जाए। उन्होंने आई0सी0यू0 बेड्स बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्हांेने मुख्य सचिव को निर्देश दिए कि सभी नोडल अधिकारी सभी जनपदों में कोविड से हो रही मृत्यु का आॅडिट करें।
      बैठक के दौरान मुख्यमंत्री को अवगत कराते हुए अपर मुख्य सचिव राजस्व ने बताया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सभी जरूरतमंदों को राहत सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है। प्रमुख सचिव पशुपालन ने बताया कि आगामी 18 अगस्त, 2020 से पशुओं के टीकाकरण का अभियान 45 दिनों तक संचालित किया जाएगा।
      इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास तथा पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि  देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।