ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
मुख्यमंत्री के निर्देश पर कारागार एवं प्रशासन सुधार विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण काल में बेहतर प्रबन्ध किये गये - अवनीश कुमार अवस्थी
June 22, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश


वेबवार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/ अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 22 जून। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कारागार एवं प्रशासन सुधार विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण काल में कोरोना को रोकने हेतु बेहतर प्रबन्ध किये गये। कोरोना संक्रमण काल में प्रदेश के कारागारों में निरूद्ध बन्दियों द्वारा भी कोरोना वाॅरियर के रूप में अपनी उल्लेखनीय सेवाएं उपलब्ध करायी गयी है।
       प्रदेश की जेलों में बन्द कैदियों द्वारा कोेरोना के विरूद्ध लड़ाई में सहयोग करते हुये 16 लाख 53 हजार से अधिक मास्क व 2125 पी0पी0ई0 किट्स तैयार की गई हैं, जिसका उपयोग कोरोना संक्रमण से बचने में किया गया है। इसके लिए कारागार प्रशासन एवं सुधार विभाग द्वारा जेलों में सिलाई यूनिटों की स्थापना करायी गयी।  
      अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि बन्दियों द्वारा उपरोक्त के अलावा सैनेटाइजर का निर्माण भी किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जेलांे में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए किये गये प्रयासांे की वजह से आज प्रदेश की जेलों में कोरोना का संक्रमण कम है। पुलिस महानिदेशक, कारागार आनन्द कुमार ने इस संबंध में किये गये प्रयासों की विस्तृत जानकारी देते हुये बताया कि आयुष मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी की गई गाइड लाइन का अनुपालन सुनिश्चित कराते हुये कारागारों में निरूद्ध बन्दियों की प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक काढ़ा एवं होम्योपैथिक औषधि भी नियमित रूप से दी जा रही है।
      आनन्द कुमार ने बताया कि प्रदेश के कारागारों में कोरोना संक्रमण काल के दौरान सतर्कता बरतते हुये जेलों में निरूद्ध कैदियों के साथ-साथ जेल में नियुक्त कर्मियों के कोरोना टेस्ट कराये गये हैं। उन्होने यह भी बताया कि बन्दियों के अब तक 8272 तथा जेल में नियुक्त कर्मियों के 926 कोविड टेस्ट कराये जा चुके हैं, जिसमें से 37 बन्दी कोरोना पाॅजिटिव पाये गये है और उनका इलाज कोविड अस्पतालों में कराया गया है।