ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
मंत्री गिरीश ने रची साज़िश, राजनीतिक द्वेश और उनकी लोकप्रियता के चलते दर्ज कराया फ़र्ज़ी केस - धनंजय सिंह
May 11, 2020 • AMIT VERMA

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 11 मई। गिरफ्तारी को राजनीतिक साज़िश करार देते हुए प्रदेश के राज्यमंत्री गिरीश यादव को इसका ज़िम्मेदार ठहराया। सोमवार को कोर्ट से निकलते हुए उन्होंने कहा कि मंत्री ने राजनीतिक द्वेश और उनकी लोकप्रियता के चलते फ़र्ज़ी केस दर्ज कराया है। 2017 में मंत्री बनने के बाद से ही इन्होंने भ्रष्टाचार किया है। चुनाव में जनता इसका जवाब देगी। फिलहाल सीजेएम ने पूर्व सांसद को 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है। 
    बता दें कि मुजफ्फरनगर जनपद निवासी अभिनव सिंहल यहां नमामि गंगे परियोजना के प्रोजेक्ट मैनेजर के पद पर तैनात हैं। शहर में सीवर पाइप लाइन बिछाने को संचालित परियोजना का कार्यालय लाइन बाजार थाना क्षेत्र के पंचहटिया में है। रविवार रात दस बजे अभिनव सिंहल ने थाने में तहरीर दी कि धनंजय सिंह के आदमी विक्रम सिंह व 2 अन्य लोग उन्हें अगवाकर उनके कालीकुत्ती स्थित आवास पर ले गए। यहां धनंजय सिंह ने पिस्टल के बल पर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। लाइन बाजार थाना प्रभारी निरीक्षक दिनेश प्रकाश पांडेय और आधा दर्जन अन्य थानों की टीम ने तड़के 3 बजे धनंजय सिंह के आवास पर दबिश देकर उन्हें और विक्रम सिंह को गिरफ्तार कर लिया।