ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की स्थापना होने पर पूर्वांचल क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी - नंदी
June 24, 2020 • AMIT VERMA • राष्ट्रीय


वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 24 जून। प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता ‘‘नंदी’’ ने बताया कि आज केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में कुशीनगर एयरपोर्ट को अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का दर्जा प्रदान किए जाने के निर्णय पर प्रधानमंत्री तथा केंद्रीय कैबिनेट के प्रति आभार व्यक्त किया है।
       श्री नंदी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने प्रदेश को 02 अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट प्रदान किए हैं। जेवर नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट एनसीआर क्षेत्र सहित पश्चिमी उत्तर प्रदेश को तथा कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा प्रदेश के पूर्वांचल क्षेत्र को बेहतर एयर कनेक्टिविटी प्रदान  करेंगे। उन्होंने बताया कि महात्मा बुद्ध की निर्वाण स्थली कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की स्थापना हो जाने पर पूर्वांचल क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी। उ0प्र0 में महात्मा बुद्ध से जुड़े स्थलों को बौद्ध सर्किट के माध्यम से जोड़ने का काम किया जा रहा है, जिससे देश विदेश के पर्यटकों को एवं श्रद्धालुओं को भगवान बुद्ध से जुड़े इन स्थलों तक पहुंचने में आसानी होगी। उन्होंने बताया कि इस हवाई अड्डे केे संचालित हो जाने पर थाईलैण्ड, जापान, वियतनाम, म्यांमार, श्रीलंका, ताइवान सहित विश्व के अनेक देशों के बौद्ध धर्म के अनुयायियों व अन्य पर्यटकों को प्रदेश में स्थित बौद्ध स्थलों का भ्रमण करने में सुगमता होगी।
        श्री नंदी ने बताया कि कुशीनगर एयरपोर्ट की स्थापना के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लगभग 590 एकड़ भूमि क्रय करते हुए निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया था, जिससे भूमि क्रय के पश्चात हवाई अड्डे के निर्माण के लिए राज्य सरकार द्वारा लगभग 190 करोड रुपए की धनराशि अवमुक्त करते हुए भारत सरकार के उपक्रम के माध्यम से एयरपोर्ट स्थापना के लगभग पूर्ण कराया गया है। - इंजेश सिंह