ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
कोविड-19 : सलाम है ममता और सेवा की अनूठी मिसाल पूनम पौल के जज्बे को
April 14, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

-  अनुकरणीय और सलाम है पूनम पौल के जज्बे को और ऐसी स्टाफ नर्स को। अगर इन्हें आधुनिक मदर टेरेसा कहा जाए तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी : संपादक।

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 15 अप्रैल। जैसा कि आप सभी को विदित है कि इन दिनों में को कोरोनावायरस नामक महामारी से विश्व स्तर की सभी से जंग छिड़ी हुई है। ऐसे मौके पर आम जनता जहां घरों में कैद है, वहीं उनकी सुरक्षा और सहयोग के लिए शासन स्तर पर पुलिस व्यवस्था, डॉक्टर व्यवस्था, सफाई कर्मी और निजी स्तर पर मीडिया कर्मी जी जान से लगे हुए हैं। 


    इसी क्रम में एक स्टाफ नर्स हैं जिनका नाम पूनम पौल है, जब सेलाॅकडाउन घोषित हुआ है तब से लगातार यह स्टाफ नर्स पूनम पौल गरीब एवं जरूरतमंद लोगों के लिए लगभग हर रोज ही कुछ ना कुछ मदद कर रही हैं। ममता एवं सेवा की अनूठी मिसाल बन यह कभी राशन बांट रही हैं, कभी कोई सामान, तो कभी खाना बनवा कर देती हैं। और सबसे बड़ी बात यह है कि यह किसी से सहयोग नहीं लेती।
      इन दिनों पूनम मानव सेवा की एक अनूठी मिसाल बनी हुई है और कोरोना वायरस से पीड़ित जो लोग हैं उनकी सेवा में लगी हैं और अपनी ड्यूटी को अंजाम दे रही हैं। वह एक हॉस्पिटल में ही कार्यरत है और करीब 1 माह से अपने परिवार से अलग होकर नर्सिंग के साथ समाज सेवा कर रही है। और शीघ्र ही उनको भी अब 14 दिन के लिए उनको क्वारेंटाइन र्में रहना होगा।
       पूछने पर उनके द्वारा बताया गया कि वह परिवार तो मेरा है साथ-साथ यह देश भी और इस देश के लोग भी मेरा ही परिवार हैं जिनके सेवा करना और उनके लिए ऊपरवाले से दुआ करना मेरा फर्ज है।
     अपनी ड्यूटी करने के साथ ही वह समय-समय पर लोगों की हर संभव मदद करती हैं। इसके साथ ही एक क्रिश्चियन लेडी होने के नाते वह अपने सुबह 4:00 बजे की प्रेयर जरूर करती हैं ताकि इस दुनिया से यह कोरोना वायरस जाता रहे और पूरी दुनिया को सुकून मिल सके ।