ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
किसान कांग्रेस मध्य उ0प्र0 के चेयरमैन ने दाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की बैठक ली 
August 14, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा 
लखनऊ 14 अगस्त। किसान कांग्रेस मध्य उ0प्र0 के चेयरमैन तरूण पटेल की अध्यक्षता में आज यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मध्य जोन के अन्तर्गत आने वाले जनपदों के प्रमुख कांग्रेसजनों, किसान संगठनों एवं किसान कांग्रेस से जुड़े पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की बैठक सम्पन्न हुई।
      बैठक को सम्बोधित करते हुए किसान कांग्रेस के चेयरमैन तरूण पटेल ने कहा कि आज हालात बहुत खराब है। किसानों की हालत बहुत ही दयनीय हेा गयी है। वर्तमान केन्द्र और प्रदेश में सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव के समय किसानों का वोट हासिल करने के लिए किसानों की आय दो गुनी करने, बिजली का बिल माफ करने और गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाने तथा गन्ना मूल्य बकाये के भुगतान की हर मंचों से जोर-शोर से घोषणा की थी। प्रदेश के किसानों ने भाजपा की बातों में आकर वोट दिया और आज हालत सबके सामने है। न किसानों का कर्ज माफ हुआ, न गन्ने के बकाये मूल्य का भुगतान हुआ और तो और किसानों की लागत मूल्य तो बढ़ती जा रही है लेकिन समर्थन मूल्य नहीं बढ़ाया गया। किसान सम्मान निधि के नाम पर एक रूपये, दो रूपये, पांच रूपये देकर किसानों को अपमानित किया गया। आज किसान खाद, पानी, बिजली और बकाये गन्ने के मूल्य के भुगतान के लिए दर-दर भटक रहा है। प्रदेश में सैंकड़ों की संख्या में किसानों ने आर्थिक तंगी के चलते आत्महत्या करने के लिए मजबूर हुआ। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने सदैव किसानों के हितों की लड़ाई लड़ी। भूमि अधिग्रहण कानून लाकर किसानों को उनकी भूमि का समुचित मुआवजा दिलाने का काम किया। कर्ज माफी कांग्रेस सरकार की किसानों के लिए सबसे बड़ी राहत का कदम रहा। आज किसानों की बदतर स्थिति के लिए केन्द्र और प्रदेश में सत्तासीन भाजपा सरकार है। इतना ही नहीं भाजपा की ही भांति सपा और बसपा के शासनकाल में सिर्फ किसानों का शोषण हुआ है। अवारा पशुओं की समस्या से आज किसान जूझ रहा है और सरकार ने अभी तक कोई कदम नहीं उठाया। सरकारी गोशालाएं मात्र कागजों पर ही सीमित हैं।
      श्री पटेल ने बैठक में आये सभी किसान प्रतिनिधियों का आवाहन किया कि कांग्रेस पार्टी किसानों के हितों की लड़ाई लड़ने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रदेश के हर जनपद में किसानों को संगठन से जोड़कर उनके हितों के लिए संघर्ष किया जायेगा जिसकी रूपरेखा शीघ्र ही घोषित की जायेगी। इस मौके पर बैठक में आये प्रदेश के तमाम किसानों ने दुश्वारियों को गिनाया और कहा कि प्रदेश का किसान कांग्रेस पार्टी की ओर आशा भरी नजरों से देख रहा है।
      बैठक में प्रमुख रूप से किसान कांग्रेस के राष्ट्रीय कोआर्डिनेटर रमाशंकर द्विवेदी, उन्नाव से प्रदीप सिंह राठौर, जयन्त चैधरी, लखीमपुर से विपुल गुप्ता, पीलीभीत से बलविन्दर सिंह गिल, आयोध्या के  दिनेश शुक्ला, अनिल मिश्रा, सीतापुर से दीपक वर्मा, सिद्धार्थनगर से दीपक यदुवंशी सहित सैंकड़ों की संख्या में किसान कांग्रेस के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।