ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
खेल हमें शारीरिक, मानसिक रूप से मजबूत बनाने के साथ ही भावनात्मक रूप से जोड़कर सहयोग की भावना पैदा करते है - डॉ0 यशवीर सिंह
May 25, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

- फ्रेंडली क्रिकेट मैच में एसडीआरएफ की टाइगर ए ने पैंथर्स बी को 45 रनों से हराया
- आईपीएस डॉक्टर यशवीर सिंह सर का गेंद बैट दोनों से संतुलित प्रदर्शन

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 24 मई। कोरोना वैश्विक महामारी से जूझने जैसी भारी भरकम दिमाग और शरीर को थका देने वाले माहौल में खुद को शारीरिक और और मानसिक रूप से स्वस्थ्य रहने हेतु एसडीआरएफ, मुख्यालय लखनऊ में एसडीआरएफ के जवानों ने एक फ्रेंडली क्रिकेट मैच आयोजित किया। जिसमे एक टाइगर ए टीम थी जिसका नेतृत्व सैन्य सहायक एहसान उल्लाह कर रहे थे और दूसरी पैंथर्स बी टीम का नेतृत्व सीनियर डीएसपी शोभनाथ यादव कर रहे थे।  


टॉस के साथ जीता दिल और मैच*
         टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने बाली टाइगर ए टीम ने 12 ओवर के मैच में ऑल आउट होकर 120 रन का पहाड़ जैसा स्कोर बनाया। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी पैंथर्स बी टीम 08 विकेट खोकर महज 74 राण ही बना सकी। हालाकि शुरुआत विजेता टीम की भी ज्यादा अच्छी नहीं रही पारी का पहला ओवर लेकर आए सेनानायक आईपीएस डॉक्टर यशवीर सिंह ने दूसरी पर गेंद सैन्य सहायक को क्लीन बोल्ड कर पहला झटका दिया। इसके बाद टीम के नियमित अंतराल पर विकेट तो गिरते रहे लेकिन बल्लेबाजों ने रन रेट डाउन नहीं होने दिया या यूं कहें गेंदबाज उन पर अंकुश नहीं लगा पाए। विजय के ३२, अभयदीप के २८ और एक्स्ट्रा 17 रनों की बदौलत स्कोर ए टीम 120 राण बना पायी । शैलेन्द्र पांडेय ने 03 ओवर में 18 रन देकर 05 विकेट लिए, जबकि साथी सुबोध सोनकर ने 03 ओवर में 10 रन खर्च कर 03 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। विकेट कीपिंग की जिम्मेदारी शिविर पाल राकेश राव संभाल रहे थे।


     स्वान दल प्रभारी पीसी सुनील वर्मा के साथ ओपनिंग करने मैदान में उतरे कैप्टन डीएसपी शोभनाथ यादव रनों के दबाव में खतरनाक गेंद को हिट करने के प्रयास में विपक्षी टीम के कैप्टन एहसान उल्लाह को कैच थमा बैठे उस समय टीम का स्कोर महज 06 रन था। 7 वें डाउन पर बल्लेबाजी करने आए डॉक्टर यशवीर सिंह ने डीप स्वायर लेग पर 02 छक्के जड़कर टीम को कुछ उम्मीद जगाई लेकिन वह भी टीम को संकट से उबार नहीं सके। उन्होंने अपनी 20 रनों की आकर्षक पारी में स्ट्राइक रेट डाउन नहीं होने दिया। सुबोध सोनकर 03/00/10/03 पीसी मनोज गौतम की 02/00/06/01 की कसी हुई गेंदबाजी ने भी बल्लेबाजों को बांधकर रखा।
     मैच समाप्ति के बाद सेनानायक आईपीएस डॉक्टर यशवीर सिंह ने संबोधित करते हुए कहा दोनों टीमों का प्रदर्शन शानदार रहा, खेल हमें शारीरिक मानसिक रूप से मजबूत बनाते ही हैं साथ ही भावात्मक रूप से जोड़ने के साथ सहयोग की भावना पैदा करते है। सूबेदार सैन्य सहायक अखिलेश शर्मा ने कार्यक्रम की व्यवस्था संभाली।