ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
जीरो टाॅलरेन्स का दावा करने वाले मुख्यमंत्री परत-दर-परत खुल रहे घोटालों पर जवाब दें: अजय कुमार लल्लू
March 2, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश


ऽ उत्तर प्रदेश बन चुका है घोटाला प्रदेश: अजय कुमार लल्लू
ऽ खेल सामग्री खरीद, शौचालय निर्माण, अनाज घोटाला, होमगार्ड जवानों की ड्यूटी आदि में करोड़ों का  घोटालाः अजय कुमार लल्लू
ऽ घोटालेबाजों पर योगी सरकार मेहरबान, नहीं हो रही कोई कार्यवाही: अजय कुमार लल्लू

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा 
लखनऊ 02 मार्च। उत्तर प्रदेश को बेहतर प्रदेश बनाने का दावा करने वाली भाजपा सरकार ने उ0प्र0 को घोटाला प्रदेश बना दिया है। पिछले तीन साल में घोटालों के अम्बार लग गए हैं। हाल में ही युवा कल्याण, पीआरडी में लगभग 25 करोड़ रूपये का घोटाला सामने आया है। अपात्र फर्म को 25 करोड़ का टेण्डर दिया गया जो विभाग के मानकों के अनुरूप नहीं था। अफसरों ने नियम-कानून को ताक पर रखकर खेल सामग्री खरीद में करोड़ों का घोटाला कर दिया। जहां 600 रूपये का फुटबाल 950 रूपये में खरीदा गया, 600 रूपये का डंबल 2300 रूपये में खरीदा गया, यह खरीददारी नवयुवक मंगल दल के नाम पर की गयी। जबकि हकीकत यह है कि युवकों का नहीं सत्ताधारी दल के नेताओं और अफसरों का मंगल हो रहा है।
       उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि इसी तरीके से बाराबंकी में स्वच्छ भारत अभियान के तहत लगभग तीन करोड़ रूपये का घोटाला हुआ है। बाराबंकी में हर चैथा शौचालय सिर्फ कागजों पर है। जिला प्रशासन द्वारा शिकायतों की जांच करने पर सत्यता सामने आयी है कि 9333 शौचालय की जगह 7774 शौचालय ही मात्र निर्मित मिले और 548 शौचालय बने ही नहीं, उसका पैसा अधिकारियों और कर्मचारियों की मिलीभगत की भेंट चढ़ गया।
इसी प्रकार राज्य भंडारागार निगम के कर्मचारियों की मिलीभगत से हुए लगभग 12 करोड़ रूपये का घोटाला सामने आया है।
     पंचायती राज विभाग में परफार्मेन्स ग्रान्ट में 700 करोड़ रूपये का घोटाला सार्वजनिक हुआ है लेकिन अभी तक कोई भी ठोस कार्यवाही नहीं हुई है। होमगार्ड जवानों की ड्यूटी में सैंकड़ों करोड़ रूपये का घोटाला हुआ है। बिजली विभाग में लगभग 40 हजार कर्मचारियों के पीएफ का 2267 करोड़ रूपये का घोटाला उ0प्र0 की योगी सरकार का सबसे बड़ा घोटाला सामने आया जिसमें ऊर्जा मंत्री की भी संलिप्तता उजागर हुई है लेकिन प्रदेश सरकार ने अभी तक दोषियों के खिलाफ कोई भी सख्त कदम नहीं उठाया है।
प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि सरकार बनने के समय से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जीरो टाॅलरेन्स की बात कर रहे हैं लेकिन नित्य नये घोटाले टी0वी0 और अखबारों की सुर्खियां बन रहे हैं और परत दर परत जनता के सामने आ रहे हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री की जवाबदेही बनती है कि वह प्रदेश में फल फूल रहे इन घोटालों पर जनता के बीच जवाब दें।