ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
ग्राम्य विकास विभाग के विभिन्न संगठनों ने एक दिन का वेतन ‘‘उत्तर प्रदेश कोविड केयर फण्ड’’ में देने की सहमति दी - मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह
April 8, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 8 अप्रैल। जैसा कि आप सबको अवगत है कि कोविड-19 (कोरोना वायरस) एक वैश्विक महामारी के रूप में वर्तमान में विस्तार ले चुका है। कोविड-19 (कोरोना वायरस) से बचाव एवं अन्य आवश्यक सुविधा उपलब्ध कराने के लिए राज्य स्तर पर ‘‘उत्तर प्रदेश कोविड केयर फण्ड’’ बनाया गया है।
     ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह’’ द्वारा ‘‘उत्तर प्रदेश कोविड फण्ड’’ में योगदान के लिए की गयी अपील के क्रम में ग्राम्य विकास विभाग, उ0प्र0 के विभिन्न अधिकारी एवं कर्मचारी संगठनों द्वारा प्रेषित सहमति एवं किये गये अनुरोध के दृष्टिगत सहयोग के रूप में दी जाने वाली धनराशि कार्मिकों के माह-अप्रैल, 2020 के देय वेतन से एक दिन के वेतन की सीधे कटौती करके ‘‘उत्तर प्रदेश कोविड केयर फण्ड’’  में प्रेषित की जायेगी।
    आपदा की इस घड़ी में ग्राम्य विकास विभाग, उत्तर प्रदेश के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विभिन्न संगठन यथा-प्रादेशिक विकास सेवा संगठन, उत्तर प्रदेश, ग्राम विकास अधिकारी एसोसिएशन, उत्तर प्रदेश, ग्राम्य विकास मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन, उ0प्र0, डी0आर0डी0 ए0 इम्पलाइज यूनियन (उ0प्र0), उत्तर प्रदेश मनरेगा कार्मिक कल्याण एसोसिएशन, उ0प्र0, उ0प्र0 ग्राम रोजगार सेवक संघ, ग्राम रोजगार सेवक (पंचायत मित्र) वेलफेयर एसोसिएशन, उ0प्र0, ग्राम्य विकास मिनिस्टीरियल एसोसिएशन, उ0प्र0 (मुख्यालय-शाखा), यू0पी0आर0 आर0 डी0ए0, यू0पी0एस0आर 0एल0एम0, दीन दयाल उपाध्याय, ग्राम्य विकास संस्थान, उ0प्र0 लखनऊ, क्षेत्रीय/जिला ग्राम्य विकास संस्थान, उ0प्र0,  राजकीय वाहन चालक संघ (मुख्यालय- शाखा) एवं ग्राम्य विकास मिनिस्ट्रीयल एसोसिएशन चतुर्थ श्रेणी (मुख्यालय-शाखा) द्वारा अपने समस्त सेवारत सदस्यों के एक दिन का वेतन (माह-अप्रैल, 2020) ‘‘उत्तर प्रदेश कोविड केयर फण्ड’’ में दिए जाने का निर्णय लेते हुए सहमति प्रदान की गयी है। कतिपय जनपदों के अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा माह-मार्च, 2020 के वेतन से ही ‘‘उत्तर प्रदेश कोविड केयर फण्ड’’ में धनराशि प्रेषित कर दी गयी है। ऐसे जनपदों के अधिकारियों/कर्मचारियों के माह-अप्रैल, 2020 के वेतन से धनराशि की कटौती नहीं की जायेगी। 
     ग्राम्य विकास विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा कोविड-19 के संक्रमण के दौरान प्रदेश सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा दिये गये दायित्वों का निवर्हन पूरी जिम्मेदारी एवं निष्ठा के साथ किया जा रहा है। ग्राम्य विकास विभाग, उत्तर प्रदेश संकट की इस घड़ी में प्रदेश सरकार  एवं प्रदेश वासियों को हर स्तर पर सहयोग एवं सुविधा उपलब्ध कराने के लिए दृढ़संकल्प है।