ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
घोटाले शिक्षक भर्ती और टेन्डर घोटालों के सूत्र बहुत गहरे, सी.बी.आई. से जांच कराई जाय - सुरेन्द्र नाथ त्रिवेदी
June 16, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 16 जून। लखनऊ 16जून।राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश प्रवक्ता सुरेन्द्र नाथ त्रिवेदी ने पशु पालन विभाग के टेन्डर घोटाले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि प्रदेश के विभिन्न कार्यक्षेत्रों में अनेकों बार घोटाले उजागर हुए हैं लेकिन वर्तमान सरकार के कार्यकाल में सचिवालय के अन्दर बाकायदा एक कमरे को ही घोटाले का कार्यालय सरकारी खर्च पर चलता पाया जाना सचिवालय की सुचिता पर बदनुमा दाग है क्योंकि उसी सचिवालय में प्रदेश की सरकार बैठती है।सचिवालय में बैठने वाले अधिकारियों की गरिमा आम जनता में उच्च कोटि की होती है। प्रदेश के सुदूरवर्ती क्षेत्रों के अधिकारियों से निराश जनता अन्तिम प्रशासनिक न्याय के लिए सचिवालय में आती है।                         
      श्री त्रिवेदी ने कहा कि कुछ समय पहले पी.एफ.घोटाला फिर उसके बाद शिक्षक भर्ती घोटाला और अब पशु पालन विभाग का टेन्डर घोटाला भी सरकार की पारदर्शिता पर प्रश्न चिन्ह लगाता है। टेन्डर घोटाले के पीड़ित व्यापारी को राजधानी पुलिस के द्वारा थाने के अन्दर बैठाकर सिपाहियों और इन्सपेक्टर के द्वारा अनावश्यक रुप से प्रताड़ित करना इस बात का द्योतक है कि घोटाले के सूत्र बहुत गहरे हैं।उन्होंने कहा कि इन घोटालों की जाँच उच्च स्तरीय होना चाहिए ताकि दोषियों को दण्डित किया जा सके।
      रालोद प्रदेश प्रवक्ता सुरेन्द्र नाथ त्रिवेदी ने मुख्यमंत्री से माँग करते हुए कहा कि शिक्षक भर्ती और टेन्डर घोटालों की जाँच सी.बी.आई.जैसी उच्च कोटि की एजेंसी से कराई जाय ताकि किसी भी स्तर का दोषी व्यक्ति न बच सके और न ही कोई हस्ती किसी को बचाने में सफल हो सके।