ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
गरीब विरोधी योगी सरकार हमारी सेवाभाव से बौखला गयी है - यू0पी0 कांग्रेस
May 23, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 23 मई। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने जारी प्रेसनोट में कहा कि इस आपदा में हम लोगों की सेवा कर रहे हैं। इस महामारी में देश निर्माताओं की सेवा ही राजनीति है, यही धर्म है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने जारी बयान में कहा कि इस आपदा में दिन-रात हमारे कार्यकर्त्ता गरीब, मजदूर, प्रवासी भाइयों-बहनों की सेवा कर रहे हैं। गरीब विरोधी योगी सरकार हमारी सेवाभाव से बौखला गयी है और हमारे नेताओं पर फर्जी मुकदमें दर्ज कर रही है। हम इन मुकदमों से डरने वाले नहीं हैं।
       प्रदेश उपाध्यक्ष पश्चिम जोन पंकज मलिक ने जारी बयान में कहा कि पूरे प्रदेश में दो दिन के भीतर योगी सरकार ने दर्जनों मुकदमें कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं पर लाद दिये हैं। लेकिन योगी आदित्यनाथ जी कान खोलकर सुन लीजिये हम कांग्रेसजन जनता की सेवा से पीछे नहीं हटेंगे। जनता की सेवा करना ही इस आपदा में सच्ची राजनीति है। उन्होंने कहा कि प्रवासी मजदूर बहन-भाइयों के लिए हम बसें चलाना चाहते थे लेकिन योगी सरकार ने अपनी कुटिल राजनीति के चलते उसे रोक दिया। हमारे अध्यक्ष को मजदूरों की सेवा के ‘अपराध’ में जेल भेज दिया गया। मेरे ऊपर मुकदमा दर्ज किया गया।
        उन्होंने बताया कि इलाहाबाद में पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह समेत 13 अन्य, प्रदेश महासचिव बीरेंद्र गुड्डू, सीतापुर जिलाध्यक्ष उत्कर्ष अवस्थी, पूर्व मंत्री रामलाल राही, मंजरी राही समेत 12 अन्य, जालौन जिलाध्यक्ष अनुज मिश्रा, गौतमबुद्धनगर महानगर अध्यक्ष शहाबुद्दीन, मिर्जापुर जिलाध्यक्ष शिवकुमार पटेल, कैलाश नाथ उपाध्याय, गुलाबचंद पाण्डेय, पंकज पटेल, मोनू पटेल, संतोष, आशीष पटेल, लवकुश भारती, शिवम पटेल समेत 25 अन्य अज्ञात कांग्रेस जनों पर फर्जी मुकदमा दर्ज हुआ हैं, लेकिन इन फर्जी मुकदमों से हमारा सेवा कार्य नहीं रुकेगा। हम मरते दम तक अपने गरीब मजदूर भाई-बहनों की सेवा करेंगे।
      प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्वी जोन वीरेंद्र चैधरी ने जारी प्रेसनोट में बताया कि इस महामारी में हम 67 लाख लोगों तक मदद पहुंचाएं हैं। 40 जगहों पर हाइवे पर खाना, नाश्ता, गुड़ बांटा जा रहा है। 22 जिलों में साझी रसोईयां चल रही हैं। इस आपदा में हम अपनी पूरी शक्ति लगाकर जनसेवा कर रहे हैं। सरकार के कायराना दमन से हम नहीं डरेंगे।