ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
एसटीएफः विकास दूबे (मृत) का साथी व 50,000/- का इनामी राम सिंह यादव गिरफ्तार
August 3, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
कानपुर देहात 03 अगस्त। दिनांकः 02-08-2020 को एस0टी0एफ0, उ0प्र0 को थाना चैबेपुर, जनपद कानपुर नगर में दिनांक 02/03-07-2020 की रात्रि में घटित लोमहर्षक हत्याकाण्ड के विरूद्ध पंजीकृत मु0अ0सं0 192/2020 धारा 147/148/149/302/307/394/120बी भादवि व 7 सी0एल0ए0 एक्ट थाना चैबेपुर जनपद कानपुर नगर में मुख्य आरोपी विकास दूबे (मृत) के साथी व रू0 50,000/- के पुरस्कार घोषित अपराधी राम सिंह यादव को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

अभियुक्त का विवरणः-
राम सिंह यादव पुत्र छोटे लाल निवासी मदारी पुरवा, मजरे-बोझा, थाना चैबेपुर, कानपुर नगर।

बरामदगीः
1- रू0 600/- नगद।

घटनास्थल का दिनांक समय/ स्थानः- 
दिनांक 02-08-2020 समयः 18.30 बढ़ापुर रोडपर, डाक्टर पी0सी0 वर्मा की क्लीनिक के आगे मोड़ पर, थाना अकबरपुर जनपद कानपुर देहात।

       जनपद कानपुर नगर के थाना चैबेपुर पर पंजीकृत मु0अ0सं0 191/2020 धारा 147, 148, 149, 504, 323, 364, 342, 307 भादव व 07 सीएलए एक्ट मंे वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु दिनांक 2/3-07-2020 को जनपद कानपुर नगर के चैबैपुर थानान्तर्गत बिकरू गांव में तत्कालीन क्षेत्राधिकारी बिल्हौर श्री देवेन्द्र मिश्र के नेतृत्व में भय दोहन करने वाले हिस्ट्रीशीटर, गिरोहबन्द वांछित दुर्दान्त अपराधी विकास दुबे पुत्र राजकुमार दुबे निवासी बिकरू के घर दबिश देने हेतु पुलिस टीम गयी थी। कार्यवाही के दौरान पूर्व नियोजित योजना के अनुसार अपराधी विकास दूबे और उसके साथियों द्वारा मकान की छतों से मोर्चा लेकर पुलिस बल पर घात लगाकर ताबड़तोड फायरिंग की गयी जिसमें तत्कालीन क्षेत्राधिकारी बिल्हौर श्री देवेन्द्र मिश्र एवं उनके हमराह तीन उ0नि0 व चार आरक्षी शहीद हो गये थे तथा 06 पुलिसकर्मी घायल हो गये थे। अभियुक्तों द्वारा पुलिस टीम की एक ए0के0-47 रायफल व 01 अदद इन्सास रायफल, 01 अदद 9 डड ग्लाक पिस्टल व 02 अदद 09 डड  पिस्टल मय कारतूस के लूट लिया गया था। इस सम्बन्ध में थाना चैबेपुर पर मु0अ0स0 192/20 धारा 147, 148, 149, 302, 307, 394 भादवि0 व 7 सीएलए एक्ट बनाम 1. विकास दुबे पुत्र रामकुमार दुबे व अमर दुबे पुत्र संजीव दुबे निवासी गण ग्राम बिकरू थाना चैबेपुर जिला कानपुर नगर सहित कुल 21 ज्ञात व 60-70 अज्ञात बदमाशो के विरुद्ध पंजीकृत हुआ था ।  
     इस दुर्दान्त अपराधी (मृतक विकास दूबे) के गिरोह के सदस्यों के विरूद्ध कार्यवाही एवं वांछितों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस महानिरीक्षक, एस0टी0एफ0,उ0प्र0 एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एस0टी0एफ0, उ0प्र0 द्वारा एस0टी0एफ0 मुख्यालय एवं फील्ड इकाईयों में कई टीमे गठित कर कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था। जिस पर एस0टी0एफ0 टीमों द्वारा उक्त अपराधियों के सम्बन्ध में अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गई तथा अभिसूचना तन्त्र को सक्रिय किया गया। इसी क्रम में गठित टीमों द्वारा कानपुर नगर व आस पास के जनपदो एवं विभिन्न प्रान्तांे में इन अपराधियों की सरगरमी से तलाष की जा रही थी। इसी दौरान एस0टी0एफ0, मुख्यालय स्थित एक टीम श्री षिवनेत्र सिंह उप निरीक्षक के नेतृत्व में मु0आ0 सुधीर कुमार सिंह, आरक्षी अमित कुमार व आरक्षी रमेष उपाध्याय के साथ उक्त वांछित अपराधी के गिरफ्तारी हेतु कानपुर नगर रवाना किया गया था। दौराने कार्यवाही जरिये मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि उपरोक्त घटना में वांछित अभियुक्त व रू0 50,000/- का पुरस्कार घोषित अपराधी राम सिंह यादव बारा रोड पर डाक्टर पी0सी0 वर्मा की क्लीनिक के आगे मोड़ पर, कस्बा व थाना अकबरपुर, जनपद कानपुर देहात के पास खड़ा है, जो कहीं जाने की फिराक मंे है। इस सूचना पर एस0टी0एफ0 टीम द्वारा मुखबिर के बताये गये स्थान पर पहुँचकर एकबारगी दबिष देकर आवष्यक बल प्रयोग कर उक्त वांछित अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया, जिससे उपरोक्त बरामदगी हुई।
        गिरफ्तार अभियुक्त राम सिंह यादव ने पूछताछ पर बताया कि विकास दूबे के कहने पर वह अपनी डबल बैरल लाइसेन्सी बंदूक लेकर विकास दूबे के घर पहूँचा था। विकास दूबे के कहने पर प्रभात की छत पर चढ़ गया था। वहाँ से उसे पुलिस कर्मियों पर गोलियाँ बरसायीं थी। उसे शहीद पुलिस कर्मियों के शवों को इकट्ठा करके कैरोसीन डालकर जलाने का कार्य करना था परन्तु और अधिक पुलिस बल आने के कारण वह फरार हो गया, तब से ही वह फरार चल रहा है। गिरफ्तार अभियुक्त को पंजीकृत मु0अ0सं0 192/2020 धारा 147/148/149/302/307/ 395/412/120बी भादवि व 7 सी0एल0ए0 एक्ट थाना चैबेपुर, जनपद कानपुर नगर में दाखिल कराया गया है। अग्रिम वैधानिक कार्यवाही अभियोग के विवेचक द्वारा की जा रही है।