ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
दुनिया वैश्विक महामारी कोविड-19 से लड़ रही है, इसको रोकना हमारे लिए एक चुनौती - योगी आदित्यनाथ
June 4, 2020 • AMIT VERMA • राष्ट्रीय

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 4 जून। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत वृद्धावस्था, निराश्रित, दिव्यांग तथा कुष्ठावस्था पेंशन की एक किश्त तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज के तहत अतिरिक्त राहत राशि के तौर पर 86 लाख 71 हजार 781 लाभार्थियों के खातों में 1301.84 करोड़ रुपये की धनराशि आॅनलाइन अन्तरित की।
           इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पूरी दुनिया वैश्विक महामारी कोविड-19 से लड़ रही है। कोरोना को रोकना हमारे लिए एक चुनौती है। इसके लिए आवश्यक है कि सभी लोग जागरूक हों, कहीं भीड़ एकत्र न होने पाए। उन्होंने कहा कि सतर्कता ही इसका बचाव है। सभी लोग मास्क व गमछे का प्रयोग अवश्य करें तथा समय-समय पर हाथ धोएं।
          मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गांव, गरीब, किसान के हितों को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा की थी। उन्होंने तकनीक के प्रयोग पर बल दिया है, जिसका परिणाम है कि आज लोगों को शोषण से मुक्ति मिली है। प्रत्येक लाभार्थी को उनके खातों में डी0बी0टी0 के माध्यम से धनराशि अन्तरित की जा रही है। उन्होंने सभी लाभार्थियों से धनराशि निकालने के लिए काॅमन सर्विस सेन्टर अथवा बैंकिंग काॅरेस्पाॅन्डेन्ट की सेवाएं लेने की अपील की, ताकि बैंकांें में भीड़ को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 03 करोड़ 56 लाख जनधन खातों में 500-500 रुपए की धनराशि, 02 करोड़ 04 लाख किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अन्तर्गत 2000-2000 रुपए तथा 01 करोड़ 54 लाख उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत निःशुल्क गैस सिलेण्डर उपलब्ध कराए गए हैं।
          मुख्यमंत्री ने कहा कि 18 करोड़ गरीबों को राशन उपलब्ध करवाने की भी कार्यवाही की गई है। 01 जून से प्रदेश सरकार छठी बार गरीबांे को राशन उपलब्ध करवा रही है। 33 लाख श्रमिकों को 1000 रुपए का भरण-पोषण भत्ता व राशन किट उपलब्ध कराई गई है। आज हस्तान्तरित धनराशि में पेंशन राशि तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की राहत राशि को सम्मिलित करते हुए वृद्धावस्था, निराश्रित तथा दिव्यांग पेंशन योजना के लाभार्थियों को प्रति लाभार्थी 1500 रुपए की दर से धनराशि हस्तान्तरित की गयी है। कुष्ठावस्था पेंशन योजना के अन्तर्गत 2500 रुपए की धनराशि प्रदान की गयी।
मुख्यमंत्री जी ने जनपद जालौन, बरेली, देवरिया, बहराइच, मेरठ, मथुरा और वाराणसी के विभिन्न पेंशन लाभार्थियों से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उनकी कुशलक्षेम पूछी तथा पेंशन के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की।
         ज्ञातव्य है कि वृद्धास्था पेंशन के 49,87,054 लाभार्थियों को 249.35 करोड़ रुपए माह जून, 2020 की मासिक पेंशन के तौर पर तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज के तहत 498.71 करोड़ रुपए, निराश्रित महिला पेंशन की 26,06,213 लाभार्थियों को 130.31 करोड़ रुपए मासिक पेंशन तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज के तहत 260.62 करोड़ रुपए तथा दिव्यांग पेंशन के 10,67,786 लाभार्थियों को 53.39 करोड़ रुपए माह जून, 2020 की मासिक पेंशन के रूप में तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज के तहत 106.78 करोड़ रुपए दिये गये। कुष्ठावस्था पेंशन के 10,728 लाभार्थियों को 2.68 करोड़ रुपए माह जून, 2020 की मासिक पेंशन के रूप में हस्तान्तरित किये गये। उपरोक्त में से महिला कल्याण विभाग द्वारा 26,06,213 लाभार्थियों को 500 रुपए प्रति लाभार्थी की दर से माह जून, 2020 की पंेशन की एक किश्त 130.31 करोड़ रुपए तथा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज के तहत 500 रुपए प्रति लाभार्थी की दर से एक किश्त 130.31 करोड़ रुपए इस प्रकार कुल 260.62 करोड़ रुपए 17 मई, 2020 को पहले ही हस्तान्तरित की जा चुकी है। इससे पूर्व 03 अप्रैल, 2020 को भी इन पेंशन योजनाओं के 86,71,781 लाभार्थियों के खातों में वर्तमान वित्तीय वर्ष के प्रथम दो माह की 871.48 करोड़ रुपए की अग्रिम पेंशन राशि मुख्यमंत्री जी द्वारा अन्तरित की गयी।  
         इस अवसर पर समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री, पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण मंत्री अनिल राजभर, महिला कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाति सिंह, मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव कुमार मित्तल, अपर मुख्य सचिव दिव्यांगजन सशक्तीकरण महेश कुमार गुप्ता, प्रमुख सचिव महिला कल्याण एस0 राधा चैहान, प्रमुख सचिव समाज कल्याण मनोज सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल एवं संजय प्रसाद, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।