ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
बजट की अवशेष धनराशि जल्द से जल्द अवमुक्त कराकर प्रस्तावों को निस्तारित करें - आशुतोष टंडन
March 2, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा 
लखनऊ 02 मार्च। आज शहरी नगर विकास तथा नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन विभाग के कार्यो की समीक्षा नगरीय प्रशिक्षण एंव शोध केन्द्रए नगरीय निकाय निदेशालयए गोमती नगरए लखनऊ में की गई। बैठक की अध्यक्षता प्रदेश के नगर विकास तथा नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन मंत्री आशुतोष टंडन ने की।  
         समीक्षा बैठक में मंत्री श्री टंडन ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वित्तीय वर्ष 2019.20 के बजट में से जो अवशेष धनराशि है उसे जल्द से जल्द औपचारिकताये पूर्ण कराते हुये अवमुक्त कराया जाये। उन्होने कहा कि इसी के  साथ ही लम्बित प्रस्तावों पर यथा शीघ्र कार्यवाही की जाये एवं स्थानीय निकायों से नये प्रस्ताव मंगवाये जाये। नगर विकास मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये है कि सीमा विस्तार  के फलस्वरुप नयी निकायों में भी स्वच्छता के कार्य पूर्ण किये जाये। प्रदेश के कुल निकायों मे से 37 निकायों को चिन्हित किया गया हैए जिसमें 40 टन से अधिक कूड़ा जनित हो रहा है इसके पूर्ण निष्पादन हेतु एक टीम बना कर कूड़े को वैज्ञानिक तरीके से उसका निस्तारण किया जाये। यह कार्य सीएनडीएस के साथ मिलकर किया जाये।
       ज्ञातव्य है कि नगर विकास विभाग के वर्ष 2019-20 की ब़जट व्यवस्था 1989019.15 लाख रूपये की है। जिसमे से कुल 1098097.12 लाख रूपये की वित्तीय स्वीकृतियां दी जा चुकी है। इस प्रकार अब कुल 890922ण्03 लाख रूपये की धनराशि अवशेष है।
        बैठक में प्रमुख सचिवए नगर विकास दीपक कुमार, निदेशक जल निगम विकास गोठियाल, मिशन निदेशक स्वच्छ भारत मिशन व अमृत अनुराग यादव, मिशन निदेशक स्मार्ट सिटी राजीव शर्मा, निदेशक सूडा उमेश प्रताप सिंहए अपर निदेशक आरसीयूएस आदि उपस्थित थे।-संजय कुमार