ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
अखिलेश यादव ने विदेशी फैंस से वीडियोकाॅलिंग द्वारा बात किया
June 23, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 23 जून। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के वीडियोकाॅलिंग से वार्ता क्रम का विस्तार आज प्रदेश से बाहर लंदन, अमेरिका तक हुआ। विदेश स्थित लोगों ने कहा कि उनके देशों में भी लोग अखिलेश जी को जानते हैं और बहुत से नौजवान उनके फैन्स हैं। प्रदेश के जनपदीय कार्यकर्ताओं-नेताओं ने भरोसा दिलाया कि वे सन् 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए गम्भीर हैं और इस बार समाजवादी सरकार बनने में कोई चूक नहीं होगी।
     अमेरिका में न्यूयार्क की ओहियो सिटी से एस.के. राय की अखिलेश यादव से वार्ता हुई जबकि अमेरिका में उस समय रात्रि के 02ः00 बजे थे। श्री राय जनपद मऊ (उ0प्र0) के मूल निवासी हैं। कोरोना संकट की वजह से वे तीन महीनों से अमेरिका में रूके हैं। वहां उनके बेटे रहते हैं। श्री राय ने बताया कि विदेश में जो भारतीय बसे हैं वे समाजवादी पार्टी और इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष जी को पसंद करते हैं। यहां के उत्तर प्रदेश के भारतीय चाहते है कि उत्तर प्रदेश के विकास के लिए सन् 2022 में समाजवादी सरकार ही बननी चाहिए। विनोद लंदन में बैंकिंग सेक्टर में काम करते है। उनकी वहां के समय के मुताबिक 08ः00 बजे प्रातः वार्ता हुई। उन्होंने बताया कि लंदन में कोरोना संकट के बावजूद अब जीवन सामान्य होता जा रहा है। व्यापारिक गतिविधियां बढ़ रही है। मंदिरों में भी लोग जा रहे हैं।
      अखिलेश यादव ने अलीगढ़ के मुस्लिम यूनिवर्सिटी के नौजवान (22वर्ष) नजीबुर्रहमान से भी वार्ता की। उनसे कहा कि वे नौजवानों के बीच काम जारी रखे। समाजवादी पार्टी युवाशक्ति को सबसे ज्यादा महत्व एवं सम्मान देती है। वे पहली बार वोटर बनने वाले युवाओं से सम्पर्क कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी से उन्हें जोड़ा जाएगा।  
     समाजवादी पार्टी के बांदा कार्यालय में बैठक के दौरान जिलाध्यक्ष विजय करन तथा महासचिव आमिर मौजूद थे। उन्होंने अखिलेश यादव को भरोसा दिया कि सन् 2022 में वे जिले की सभी विधानसभा सीटों पर समाजवादी पार्टी की जीत दर्ज कराएंगे। कन्नौज लोकसभा के अंतर्गत तिर्वा स्थित मिठाई की दूकान के मालिक स्व. मुन्ना बाथम के पुत्र दिनेश बाथम से अखिलेश जी की वार्ता हुई। उन्होंने कहा कि कोई काम धंधा नहीं चल रहा है। सब बेकारी से परेशान है। इस दुकान की कुल्हड़ की चाय, समोसा और सर्दियों में गाजर का हलवा बहुत चर्चित है। लोगों में इनका बड़ा चाव है। जब वार्ता हो रही थी तो सड़क चलते अन्य लोग भी आ जुटे। मिठाई की दूकान के बगल में एक टेलर मास्टर भी आ गए। उन्होंने अखिलेश जी को नमस्कार किया।
    अखिलेश यादव ने वाराणसी की बसंत बहार स्वीटशाप के मालिक शुभम ने बताया कि इन दिनों बिक्री कम हो रही है। लोगों के पास पैसा नहीं है। डरे-सहमें ग्राहक कम खर्च कर रहे हैं। भाजपा सरकार की गलत नीतियों के चलते अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई है।
    अखिलेश यादव को वीडियोकाॅलिंग के दौरान स्थानीय लोगों ने बताया कि किसान भी अब समान लेने नहीं आ रहे हैं। उनकी फसल को इस बार ओला-वर्षा-आंधी से बहुत नुकसान हुआ है। आम की फसल चैपट हो गई है। श्रमिकों को रोजगार नहीं मिला। वे बेरोजगारी का दंश झेल रहे हैं। उनकी स्थिति बहुत खराब है। उनकी नौकरी चली गई और यहां भी उन्हें काम नहीं मिल रहा है।