ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
अभिभावक मांग रहे इंसाफ, छात्र- छात्राओं की फीस करो माफ की होर्डिंग द्वारा लगायी गुहार
July 23, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश
वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ, 22 जुलाई। समाजवादी छात्र सभा, उत्तर प्रदेश लगातार कोविड-19 की वजह से उत्पन्न छात्र-छात्राओं की समस्याओं के समाधान हेतु संघर्षरत है। समाजवादी छात्रसभा का मानना है कि कोरोना महामारी के दौरान विभिन्न शिक्षण संस्थानों की संपूर्ण व्यवस्था बाधित रही है। लोगों का आर्थिक एवं सामाजिक जीवन अस्त-व्यस्त हुआ है। अभी कोरोना महामारी का प्रकोप कम होने के बजाय लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में करोड़ों छात्र-छात्राएं अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं।
         समाजवादी छात्र सभा के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष  दिग्विजय सिंह "देव" के निर्देश पर छात्रसभा के निवर्तमान प्रदेश सचिव सुनील सोनी ने कहा कि कोरोनाकाल में शिक्षण संस्थाओं के बंद होते हुए भी छात्र-छात्राओं से वर्तमान सत्र एवं छात्रावास की फीस का भुगतान संबंधी आदेश संवेदनहीन एवं अमानवीय है।
          इसी क्रम में समाजवादी छात्रसभा से जुड़े तमाम छात्र-नौजवानों एवं पदाधिकारियों द्वारा उत्तर प्रदेश के समस्त जनपदों की मुख्य जगहों पर होर्डिंग्स लगाकर सरकार के फीस सम्बन्धी फैसले का विरोध करेंगे। इसके बावजूद भी यदि उत्तर प्रदेश सरकार अपने इस तानाशाही फैसले को वापस नहीं लेती है तो मजबूरन समाजवादी छात्रसभा लोकतांत्रिक तरीके से आंदोलन को धार देने का काम करेगी। 
     इस मौके पर छात्र नेता दीपक यादव, हार्दिक यादव, रजत यादव ,उमेश यादव ,सुनील शंकर, राहुल ,अमरीश, संतोष आदि लोग उपस्थित रहे।