ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य बिजनेस खेल सिनेमा रोजगार धर्म मेट्रोमोनियल
आर0एल0डी0 ने 69000 शिक्षकों की भर्ती के घोषित परीक्षा परिणाम पर लगाया सवालिया निशान
May 16, 2020 • AMIT VERMA • उत्तर प्रदेश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 15 मई। राष्ट्रीय लोकदल के नेता अभिषेक बाजपेयी ने प्रदेश में होने वाली 69000 शिक्षकों की भर्ती के लिए घोषित किए गए परीक्षा परिणाम पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा है कि जब वर्ष 2019 में भर्ती परीक्षा आयोजित की गई थी उसी समय परीक्षा के पूर्व ही प्रयागराज में परीक्षा प्रश्न पत्र वायरल हो गया था और उसकी जाँच एस.टी.एफ को दी गई थी। 
      रालोद नेता ने कहा कि इस प्रकरण में लखनऊ के नेशनल इन्टर कालेज के प्रधानाचार्य उमाशंकर सिंह तथा साल्वर गैंग का सरगना प्रतापगढ़ जिले का निवासी यूपी पुलिस का सिपाही अरुण कुमार सिंह गिरफ्तार हुआ था। इसी प्रकार प्रयागराज, कानपुर, मुरादाबाद, आजमगढ़, आगरा सहित विभिन्न जनपदों से 25 लोग गिरफ्तार किए गए थे। अतःयह परीक्षा पूर्ण रूप से निरस्त करने योग्य थी। अब प्रदेश सरकार द्वारा उसी का परिणाम घोषित करके नियुक्तियां करना सरकार की मंशा और पार्दर्शिता पर प्रश्न चिन्ह लगाता है। केवल यही नहीं प्रयागराज के कई कालेजों के घोषित परिणाम के 20-25 लोगों के अनुक्रमांक एक ही सीरियल से उत्तीर्ण हैं जो सन्देह को और मजबूत करते हैं। रालोद नेता ने माँग की कि परीक्षा निरस्त करके पुनः आयोजित की जाय और एस.टी.एफ.की जाँच को भी सार्वजनिक किया जाय।